आंखों की रोशनी प्राकृतिक रूप से कैसे ठीक करें – Improve Your Eyesight Naturally

आंखों की रोशनी बढ़ाने के तरीके

आज के इस आधुनिक युग में बढ़ते हुए स्क्रीन टाइम की वजह से आंखों की रोशनी पर बुरा असर पड़ रहा है। चाहे बच्चे हो या बड़े हर कोई कंप्यूटर, टेलीविजन, सेल फोन और अन्य उपकरणों का पहले से कहीं अधिक उपयोग कर रहे हैं। जिसकी वजह से आंखों की थकान, आंख का कमजोर होना, और अन्य आंखों की समस्याएं तीव्र गति से बढ़ रही हैं। अगर आपकी eyesight कमजोर है और आप इसे प्राकृतिक रूप से ठीक करना चाहते हैं तो हमारा यह आर्टिकल जरूर पढ़ें। आइए जानते हैं eyesight प्राकृतिक रूप से ठीक कैसे करें – Improve Your Eyesight Naturally in Hindi

आंखों की रोशनी बढ़ाने के तरीके

आंखो की रोशनी प्राकृतिक रूप से ठीक करने के तरीके

कमजोर eyesight और आंखों पर चढ़ा चश्मा अगर आपको परेशान कर रहा है तो बार-बार डॉक्टर के चक्कर लगाने की बजाय घर बैठे ही नीचे दिए गए उपाय अपना ले जिनसे आपकी आंखों की रोशनी भी बढ़ेगी और अगर आप इन्हें नियमित रूप से करेंगे तो आपका चश्मा भी उतर सकता है।

1. आंखों की रोशनी बढ़ाने स्वस्थ खाएं

विटामिन ए, सी, ई और मिनरल्स जैसे कि जिंक और कॉपर आंखों के लिए बहुत जरूरी होते हैं। इसके अलावा एंटीऑक्सीडेंट्स जैसे कि बीटा-कैरोटीन, ल्यूटिन और ज़ीएक्सैंथिन आंखों की मांसपेशियों को सूर्य के तेज प्रकाश की वजह से होने वाली क्षति से बचाते हैं। हरी सब्जियों, शकरकंद, गाजर, पेठा, अंडे, आदि एंटीऑक्सीडेंट्स का अच्छा स्त्रोत है। हाल ही के शोधों के अनुसार हरी और पीली सब्जियों के सेवन से आप उम्र के साथ होने वाले मस्कुलर डिग्रेडेशन से बच सकते हैं जोकी अंधेपन का मुख्य कारण है।

खाद्य पदार्थ जैसेकी लहसुन, प्याज, shallots, और capers जिनमें सल्फर, सिस्टीन और लीसीथिन भरपूर मात्रा में पाया जाता है। यह सब आंखों के लेंस की रक्षा करते हैं और मोतियाबिंद जैसी बीमारी से बचाते हैं। एंथोसाइनिन से भरपूर खाद्य पदार्थ जैसे कि ब्लूबेरिज, अंगूर आदि आंखों की रोशनी को बेहतर बनाने में मदद करते हैं।

डीएचए एक फैटी एसिड है जो ठंडे पानी की मछली जैसेकी wild salmon, सार्डिन, मैकेरल और कॉड में पाया जाता है। डीएचए कौशिका झिल्ली को संरचनात्मक समर्थन प्रदान करता है और आँखों को स्वस्थ बनाये रखने में मदद करता है।

अच्छी eyesight के लिए healthy खाना खाना चाहिये। कुछ खाद्य पदार्थ जोकि आंखों की सेहत के लिए बहुत अच्छे साबित हो सकते हैं उनके अंदर

  • गाजर
  • लाल शिमला मिर्च
  • ब्रोकली
  • पालक
  • स्ट्रॉबेरी
  • शकरकंद
  • Citrus fruits जैसेकि संतरा, नींबू, मौसमी, आदि शामिल है।

Read:नींबू पानी पीने के क्या-क्या फायदे हैं।

2. अच्छी आंखो की रोशनी के लिए धूम्रपान को ना कहें

धूम्रपान के वजह से आपकी आंखों की optic nerves की क्षति होती है और mascular degeneration होता है। धूम्रपान से मोतियाबिंद जैसी समस्या भी उत्पन्न होती है। लगातार नशीले पदार्थ का सेवन से शरीर के रोग-प्रतिरोग क्षमता कम होता है। तम्बाकू, नशीली दवाओं, भांग तथा अफीम हमारे शरीर मे कई बीमारयो को जन्म देते है। एक रिपोर्ट के अनुसार प्रति वर्ष दुनिया में 4.9 मिलियन लोग धूम्रपान से होने वाली बीमारियों से मर जाते हैं। अगर आप धूम्रपान करते हैं तो शीघ्र ही इसे छोड़ दे यह आपकी आँखों पर बुरा असर डाल सकता है।

Read:वजन कम करने के कुछ आसान तरीके।

3. आंखों की रोशनी तेज करने के आंखों की व्यायाम करें

व्यायाम ( exercise ) करने से पूरा शरीर स्वस्थ निरोग रहता है। आंखों के योग करने से आंखों को आराम मिलता है और उनकी रोशनी बढ़ती है। अगर आप नियमित रूप से सुबह और रात को सोने से पहले आंखों के व्यायाम करें तो आपको आंखों में थकावट महसूस नहीं होगी। नियमित रूप से eye exercise करने से 1 महीने के अंदर ही आपको परिणाम देखने को मिलेंगे। अगर आप आंखो की कसरत के बारे में विस्तार से जानना चाहते हैं तो हमारा आर्टिकल Healthy आँखों के लिए eye exercises जरूर पढ़ें।

Read:चेहरे से मुँहासे पिम्पल्स हटाने के घरेलू उपाय।

4. आँखों की रौशनी बढ़ाने के लिए दैनिक दिनचर्या को नियंत्रित करें

मधुमेह, उच्च रक्तचाप, आदि कुछ ऐसी बीमारियां हैं जोकि आपकी आंखों की दृष्टि को प्रभावित करती हैं। इसलिए यह जरूरी बन जाता है कि आप इन बीमारियों से बचकर रहें। इन बीमारियों से बचने के लिए आपको स्वस्थ भोजन की आदतें ( healthy food habits ) के साथ-साथ स्वस्थ जीवनशैली (healthy lifestyle ) को भी अपनाना पड़ेगा।

Read:जानिये समुद्री नमक सेहत के लिए हानिकारक क्यों होता जा रहा है?

नियमित योग और व्यायाम के द्वारा आप इन बीमारियों को नियंत्रित कर सकते हैं। अगर आप healthy खाना खाते हैं और healthy lifestyle follow करते हैं तो ना केवल आप स्वस्थ आंखें पा सकते हैं बल्कि अपने आप को और भी बहुत सी बीमारियों से बचा सकते हैं।

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *