एंटीऑक्सीडेंट्स क्या हैं हमारी सेहत के लिए क्यों जरूरी हैं?

एंटीऑक्सीडेंट्स क्या हैं

क्या आपने कभी एंटीऑक्सीडेंट्स (Antioxidants) का नाम सुना है। एंटीऑक्सीडेंट्स हमारे शरीर के रोग प्रतिरोधक क्षमता में इजाफा करते हैं। यह सेहत से सम्बन्धित परेशानियों में फायदा पहुंचाते हैं। एंटीऑक्सीडेंट्स क्या है और मानव के लिए कितना जरुरी है आइये जाने।

एंटीऑक्सीडेंट्स क्या हैं

क्या होते हैं एंटीऑक्सीडेंट्स ?

प्रतिऑक्सीकारक या एंटीऑक्सीडेंट वो पदार्थ है जो हमारी कोशिकाओं को फ्री रेडिकल्स (Free Redicals) के प्रभाव से सुरक्षा प्रदान करते हैं। जब हमारा शरीर भोजन को तोड़ता है या प्रदूषण, तम्बाखू के धुएँ और रेडिएशन के संपर्क में आता है तो फ्री रेडिकल्स का निर्माण होता है। एंटीऑक्सीडेंट वो शक्तिशाली पदार्थ हैं जो हमारे शरीर से फ्री रेडिकल्स को खत्म करते हैं और उनका बनना नियंत्रित करते हैं। अगर फ्री रेडिकल्स को नियंत्रित ना किया जाए तो ये बहुत सी बीमारियों की वजह बन सकते हैं। कुछ चीजे जो फ्री रेडिकल्स के निर्माण को बढ़ा देती है वो हैं

  • वायु प्रदुषण
  • सिगरेट का धुंआ
  • शराब का सेवन
  • विषाक्त पदार्थ (Toxins)
  • उच्च रक्त शर्करा (High blood sugar) स्तर
  • अधिक मात्रा में पॉलीअनसैचुरेटेड फैटी एसिड का उपभोग
  • अत्यधिक सनबाथिंग और विकिरण
  • बैक्टीरिया, कवक (fungi) या वायरस संक्रमण
  • लौह, मैग्नीशियम, तांबा, या जिंक का अत्यधिक सेवन
  • शरीर में ऑक्सीजन की अत्यधिक कम मात्रा
  • शरीर में ऑक्सीजन की बहुत अधिक मात्रा
  • तीव्र और लंबे समय तक व्यायाम, जिससे टिशूज (tissues ) की क्षति होती है
  • एंटीऑक्सिडेंट्स जैसे कि विटामिन सी और ई का अत्यधिक सेवन
  • एंटीऑक्सीडेंट की कमी

अगर लंबे समय तक हमारे शरीर में अधिक मात्रा में फ्री रेडिकल्स बनते रहते हैं तो कार्डियोवैस्कुलर, कैंसर, और अन्य बीमारियों का खतरा बढ़ जाता है। फ्री रेडिकल्स की वजह से ही हमारी उम्र अधिक लगने लगती है। एंटीऑक्सीडेंट्स जैसे कि विटामिन सी और ई, कैरोटीनोइड , फ्लैवोनोइड्स, टैनिन, फिनोल और लिग्नन्स हमारे शरीर को फ्री रेडिकल्स की वजह से होने वाली क्षति से बचाते हैं। ताजे फल और हरी सब्जियां, मेवे, साबुत अनाज, मसाले, जड़ी बूटियां आदि एंटीऑक्सीडेंट्स के अच्छे स्रोत हैं।

Raed:पेट में गैस क्यों बनती है लक्षण, इलाज और उपाय।

एंटीऑक्सीडेंट के आश्चर्यजनक स्वास्थ्य लाभ – Surprising Health Benefits of Antioxidents

वैसे तो मानव शरीर स्वाभाविक रूप से फ्री रेडिकल्स और एंटीऑक्सिडेंट्स पैदा करता है लेकिन ज्यादातर फ्री रेडिकल्स का उत्पादन एंटीऑक्सीडेंट्स की तुलना में काफी अधिक होता है। इसलिए इन दोनों में संतुलन बनाए रखने के लिए हमें एंटीऑक्सीडेंट्स के लिए बाहरी स्रोतों पर निर्भर रहना पड़ता है। एंटीऑक्सीडेंट्स रक्त में से फ्री रेडिकल्स को बाहर निकाल देते हैं और उन्हें बेअसर कर देते हैं जिससे हमारा शरीर स्वस्थ रहता है। आज के इस प्रदूषण भरे दौर में अगर आप स्वास्थ रहना चाहते हैं तो आपको एक्सीडेंट्स का सेवन बढ़ा देना चाहिए।

Read:आयुर्वेदिक उपचार जो धूल एलर्जी की समस्या को कम करे।

कार्डियोवैस्कुलर स्वास्थ्य को सुधारते हैं – Cardiovascular improve health

  • कुछ एंटीऑक्सीडेंट्स जैसे कि विटामिन सी, ई, सेलेनियम, तांबे और जिंक ह्रदय के लिए बहुत ही अच्छे होते हैं।
  • पर्याप्त मात्रा में विटामिन सी का सेवन करने से स्ट्रोक के खतरे से 50% तक बचा जा सकता है।
  • ताजे फल और सब्जियां खाने से हृदय संबंधित बीमारियों से बचाव होता है।

संज्ञानात्मक स्वास्थ्य में सुधार- Cognitive health improvements

  • एंटीऑक्सीडेंट्स मेमोरी को भी सुधारते हैं। एंटीऑक्सीडेंट्स जैसे कि विटामिन सी और ई, सेलेनियम और जिंक प्राकृतिक रूप से एंटीडिप्रेसेंट (अवसाद विरोधी) की तरह कार्य करते हैं।
  • ये वैस्कुलर हेल्थ मैं भी सुधार करते हैं और मस्तिष्क की छोटी-छोटी रक्त वाहिकाओं में ब्लड सरकुलेशन को बढ़ाते हैं जिससे की मस्तिष्क में ऑक्सीजन और अन्य पोषक तत्वों का वितरण सही प्रकार से होता है।

कैंसर को रोकने में मदद करते हैं – Help prevent cancer

  • फ्री रेडिकल्स की वजह से कोशिकाओं की क्षति होती है जोकि कैंसर का मुख्य कारण है।
  • एंटीऑक्सीडेंट्स फ्री रेडिकल्स को खत्म कर देते हैं और कैंसर से बचाव करते हैं।

Read:चेहरे से मुँहासे पिम्पल्स हटाने के घरेलू उपाय।

नेत्र दृष्टि में सुधार – Eye sight improvement

  • एंटीऑक्सीडेंट्स जैसे की विटामिन सी और ई , ल्यूटिन और ज़ीएक्सैंथिन नेत्र दृष्टि को बढ़ाते हैं।
  • एंटीऑक्सीडेंट्स के नियमित सेवन से मोतियाबिंद और रात के अंधेपन जैसी बीमारियों को रोका जा सकता है।

प्रतिरक्षा वृद्धि – Immunity Increase

  • अधिक मात्रा में ताजे फल और सब्जियां खाने से आपका इम्यून सिस्टम मजबूत बनता है। और आप बहुत सी बीमारियों जैसे कि सर्दी जुकाम और ब्रोन्कियल संक्रमण से बच पाते हैं।
  • विटामिन ए, सी, ई, और कैरोटीनोइड जैसे एंटीऑक्सीडेंट प्रतिरक्षा स्वास्थ्य इम्यून सिस्टम को मजबूत बनाते हैं।

वृद्धावस्था के लक्षणों को दूर करते हैं – Remove symptoms of old age

  • फ्री रेडिकल्स वृद्धावस्था के लक्ष्मण को पैदा करते हैं जिसकी वजह से चेहरे पर सूजन, झुर्रियां, झाइयां आदि दिखाई देने लगती हैं।
  • एंटीऑक्सीडेंट्स फ्री रेडिकल्स के प्रभाव को खत्म कर देते हैं इसलिए यह बढ़ती उम्र के संकेतों में देरी में मुख्य भूमिका निभाते हैं।

Read:चमकदार त्वचा के उपाय एवं चेहरे पर चमक लाने के घरेलू नुस्खे।

मजबूत बालों के लिए – For strong hair

  • एंटीऑक्सीडेंट्स बालों को मजबूत और स्वस्थ बनाते हैं।
  • बाल नियमित रूप से सूरज की रोशनी और प्रदूषण के संपर्क में आते हैं इसलिए यहां पर फ्री रेडिकल्स बहुत अधिक मात्रा में पाए जाते हैं।
  • इन फ्री रेडिकल्स का एंटीऑक्सीडेंट्स सामना करते हैं, बालों को स्वस्थ बनाते हैं और उनका झड़ना रोकते हैं।

भी आपने जाना एंटीऑक्सीडेंट्स किसे कहते है और स्वस्थ रहने के लिए कितने महत्वपूर्ण है? अगर आप बीमारियों से बचे रहना चाहते हैं तो भरपूर मात्रा में एंटीऑक्सीडेंट्स का सेवन करें।

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *