पेट में गैस क्यों बनती है लक्षण, इलाज और उपाय

गैस की बीमारी का इलाज

किया आप जानते है? पेट में गैस ( pet me gas ) बनने के कारण दुसरे के सामने हमे शर्मिंदा कर देती है. छोटे से लेकर बड़े उम्र तक के व्यक्ति के पेट में गैस बनती है, पर समस्या तब रहती है जब अधिक बनने लगती है. हर समय बार बार पेट में गैस बनना कई तरह की बीमारी की वजह बन सकती है.

गैस की बीमारी का इलाज

पेट में गैस क्यों बनती है ?

वैसे तो खान-पान पर ध्यान न देना इस समस्या का मुख्य कारण होता है. अगर आपका पाचन तंत्र ख़राब या कमजोर है, और एसिडिटी या कब्ज की शिकायत रहती है, तो आपके पेट में गैस और जलन हमेशा रहेगी. इसके अलावा भी कई ऐसी बाते है जिनकी वजह से ये बीमारी हमारे पेट में हो जाती है.

कारण :-

अनियमित खान पान :- खान पान पर ध्यान न देना इस रोग के उत्पन्न होने की वजह हो सकती है.

  • पेट में गैस प्याज, अंडे, बेसन, अधिक रेशेदार भोजन, ज्यादा प्रोटीन और वसा युक्त भोजन करने से बनती है.
  • कभी-कभी पेट में अल्सर, अपच और इन्फेक्शन जैसे कारणों से भी ये समस्या होने lagti है.
  • जिन लोगो को गैस ज्यादा बनती है, उनको ठंडा और रुखा भोजन नहीं करना चाहिए.
  • चाय कॉफ़ी, तले हुए और अधिक तीखे चटपटे मशालेदार चीज़े खाने से पेट में गैस बनाती है.
  • ज्यादा चिंता, अधिक शराब पिने से और धुम्रपान करने से पेट में गैस अधिक बनती है.

लक्षण :-

ये कोई बीमारी नहीं है, पर इसके निरंतर रहने के परिणामस्वरूप शरीर में कई तरह की बीमारिया जन्म ले सकती है. जरुरी है, की समय रहते पेट में गैस के लक्षण की पहचान कर ठीक करने के उपाय करे जाए.

  • भूख कम लगना.
  • खाना हजम न होना.
  • भोजन करने के बाद पेट भारी-भारी लगना.
  • हमेशा कब्ज बनी रहना, पेट ठीक से साफ न होना.
  • पेट दर्द करना.
  • पेट में जलन होना.
  • खट्टी डकारे और आफरा आना.

जानिए सौंफ खाने के क्या-क्या फायदे है?

पेट में गैस का घरेलु इलाज और उपाय

आप इस समस्या से परेशान है, तो अपने खान पान का ख्याल रखकर और पेट में गैस के लिए घरेलु उपचार अपनाकर इस रोग से छुटकारा आसानी से पा सकते है.

सेब ( Apple )

ये एक ऐसा फल है, जो अनेक रोगों में फायदा करता है. सेब के गुद्दे में यह विशेषता होती है, की वह पेट की आंतो में और पांचक अंगो पर हलकी सी परत बनाकर उनके लिए कवच का काम करता है.  सेब से पाचन क्रिया में एक्टिव सेल्स भोजन के बचे हुए अंश सड़ने से बचे रहते है जिसके कारण पेट में गैस नहीं बनती. इस रोग से परेशान व्यक्ति को सेब का जूस पीकर या सेब खाकर गरम पानी पीना चाहिए. ऐसा करने से बहुत जल्दी लाभ मिलता है.

संतरा ( Orange )

संतरे को नारंगी भी कहा जाता है. इसके सेवन से गैस की परेशानी ख़तम हो जाती है. रोजाना सुबह 1 गिलास संतरा का जूस पीना चाहिए. ऐसा करना स्वास्थ्य के लिए फायेदेमंद होने के साथ पेट में गैस की बीमारी में लाभकारी होता है.

मुह की बदबू दूर करने के घरेलु उपाय और नुस्खे 

केला ( Banana )

अक्सर जिस व्यक्ति को दस्त लग जाती है, उनको डॉक्टर दावा के साथ केला खाने की सलाह देता है. पेट की बीमारी में केला खाना फायदा करता है. केले को देशी घी के साथ खाने से गैस की समस्या नहीं होती है.

अमरूद ( Guavas )

यह स्वास्थ्य के लिए लाभदायक फल है. अमरुद में विटामिन A, B और C अधिक मात्रा में पाया जाता है. अमरुद को काटकर सेंधा नमक के साथ खाने से पेट में गैस नहीं बनती और पाचन क्रिया भी ठीक रहती है.

चेहरे को सुंदर ओर गोरा बनाने के घरेलु नुस्खे.

अंजीर ( Common fig )

जिस व्यक्ति को पुराना कब्ज है उसको अंजीर खाना चाहिए. अंजीर के बिज के सेवन से पेट हमेशा साफ़ बना रहता है और गैस की समस्या कभी नहीं होती.

जायफल ( Nutmeg )

पेट में गैस के इलाज के लिए जायफल को घिसकर उसमे सोंठ मलकर पिने से या जायफल को नींबू के रस में चाटने से लाभ मिलता है. जिस किसी को लम्बे समय से गैस, अपच या खाना ठीक से हजम न होने की शिकायत रहती है, उनको ये नुस्खा जरुर अपनाना चाहिए.

Hair Fall कैसे रोके और बाल झड़ने की वजह जानिए.

अजवाइन ( Ajwain )

खाना खाने के बाद गुनगुने पानी के साथ 1/2 चम्मच अजवाइन का सेवन करना चाहिए. ऐसा करने से भोजन जल्दी पचता है और पेट में किसी तरह की परेशानी नहीं होती.

नींबू ( Lemon )

जो लोग रोज नींबू पानी पीते है बीमारी उनके करीब भी नहीं आती. नींबू के फायेदे और औषधीय गुण इतने है की आयुर्वेद में इसको अम्रत के समान मन गया है. जिन लोगो के पेट में गैस बनने की बीमारी है, उनको नींबू के रस 2 छोटे चम्मच और सेंधा नमक हलके गरम पानी में मिलाकर पीना चाहिए. इससे बहुत लाभ मिलता है. रोजाना दिन में एक बार  बिना दूध की नींबू वाली चाय ( Lemon Tea ) पीना चाहिए पेट में गैस नहीं बनेगी.

By How To Kaise

This is author biographical info, that can be used to tell more about you, your iterests, background and experience. You can change it on Admin > Users > Your Profile > Biographical Info page."

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *